Entertainment

साहित्यिक चोरी के आरोपों पर मनोज मुंतशिर का जवाब, ‘आरोप साबित हुए तो मैं लिखना बंद कर दूंगा’

मुंबई: हाल ही में मशहूर गीतकार और लेखक मनोज मुंतशिर पर साहित्यिक चोरी आरोप लगा था. इसके बाद से उन्हें यूजर्स के निशाने पर लिया गया है।

मनोज मुंतशिर पर पाकिस्तानी गाने ‘केसरी’ के गाने ‘तेरी मिट्टी’ को कॉपी करने का आरोप है. मुंतशिर के बारे में अफवाह है कि उन्होंने 2005 के पाकिस्तानी गाने से ‘तेरी मिट्टी’ गाना चुरा लिया है।

मनोज मुंतशिर इन आरोपों से नाराज हैं। इन आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए मनोज ने कहा कहा कि उन्होंने ‘तेरी मिट्टी’ गाने को कहीं से कॉपी किया है यदि यह साबित हो जाता है, तो मैं लेखन को हमेशा के लिए छोड़ दूंगा ।

इस गाने को किसी पाकिस्तानी सिंगर ने नहीं बल्कि गीता रबारी ने गाया है

मनोज मुंतशिर ने पूरे विवाद पर टाइम्स ऑफ इंडिया को इंटरव्यू दिया।

उन्होंने कहा, “जो भी उपयोगकर्ता आरोप लगा रहे हैं, वे यह भी जांच लें कि वीडियो उनकी ‘केसरी’ फिल्म की रिलीज के कुछ महीने बाद अपलोड किया गया था।”

अधिक जानकारी के लिए ध्यान रहे कि जिस गाने की बात की जा रही है उसे किसी पाकिस्तानी सिंगर ने नहीं बल्कि हमारी लोक गायिका गीता रबारी ने गाया है। आप उन्हें कॉल भी कर सकते हैं और सुनिश्चित कर सकते हैं। ‘

गाने ही नहीं कविताएं भी चुराने का आरोप

मनोज मुंतशिर पर ‘तेरी मिट्टी’ ही नहीं बल्कि कुछ और कविताएं और गाने चुराने का भी आरोप है उन पर हाल ही में ‘कॉल मी’ कविता चुराने का आरोप है. मनोज की ‘मेरी फितरत है मस्ताना’ किताब में यह कविता मे थी

‘आरोप साबित हुए तो मैं लिखना बंद कर दूंगा’

मनोज ने पुरे मुद्दे पर कहा कि अगर किसी को उनके यूट्यूब वीडियो या फिर इतिहास को सही तरीके से दिखाने से कोई दिक्कत है तो वे उससे बहस कर सकते हैं.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Manoj Muntashir (@manojmuntashir)

लेकिन उस गान का अपमान न करें जो सशस्त्र बलों के लिए राष्ट्रगान बन गया। मनोज मुंतशिर ने आगे कहा, “अगर मैं साबित हो गया कि मैंने ‘तेरी मिट्टी’ गीत और अन्य गाने चुराए हैं, तो मैं हमेशा के लिए लिखना बंद कर दूंगा।”

यह भी पढ़े:

गणपति विसर्जन पोस्ट शेयर करने पर सोशल मीडिया पर ट्रोल हुए शाहरुख खान!, ट्रोलस बोले ‘इस्लाम क्यों भूल गए?’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button